पुलिस कर्मचारियों का राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर सेमिनार आयोजन किया गया - Discovery Times

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, October 29, 2020

पुलिस कर्मचारियों का राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर सेमिनार आयोजन किया गया

pol
कुरुक्षेत्र 30 अक्टूबर (अनिल धीमान) :जिला पुलिस लाइन कुरुक्षेत्र में पुलिस कर्मचारियों का राष्ट्रीय सुरक्षा पर सेमिनार का आयोजन किया गया | राष्ट्रीय सुरक्षा सेमीनार में डॉ हरीश रंगा सेवानिवृत महानिरीक्षक जेल ने मुख्य अतिथि के रूप शिरकत की | राष्ट्रीय सुरक्षा पर अपने विचार प्रस्तुत करते हुए डॉ हरीश रंगा ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा दो प्रकार की होती है बाहरी सुरक्षा और आन्तरिक सुरक्षा | बाहरी सुरक्षा के लिए खतरा सामान्य तौर पर हमारे पड़ोसी मुल्कों पाकिस्तान, चीन, बांग्लादेश व म्यामार आदि से हो सकता है | बाहरी सुरक्षा के साथ साथ देश की आन्तरिक सुरक्षा रखना अत्यंत आवश्यक है | देश की आन्तरिक सुरक्षा का एक विस्तृत क्षेत्र है | देश की आन्तरिक सुरक्षा को खतरा पहुँचाने वाला सबसे मुख्य कारक ड्रग्स है | जो देश की आन्तरिक सुरक्षा के लिए सबसे ज्यादा नुक्सान देह है | देश में आंतरिक सुरक्षा को बरकरार रखने के लिए NIA, IB,CBI,RAW  आदि संगठन सक्रिय हैं | देश की आन्तरिक सुरक्षा को दूसरा खतरा जाली करंसी नोटों से है | किसी देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने के लिए उसमे जाली करंसी नोटों का प्रचलन करके किया जा सकता है| हमारे देश में जाली करंसी नोट फैला कर देश की अर्थव्यवस्था को नुक्सान पहुँचाने के लिए पड़ोसी मुल्क हर समय कोशिश में लगे रहतें हैं | देश की पुलिस को ऐसी ट्रेनिंग देनी चाहिए जिससे वह देश जाली करंसी नोटों के प्रचलन को बढ़ने रोक सके | इसके साथ साथ देश का हर नागरिक अपने कर्तव्य के प्रति सजग हो तभी हम देश की सुरक्षा को बरकरार रख सकते हैं | चीन के उत्पादनों का देश में काफी प्रचलन हो गया है | जिससे देश में निर्मित वस्तुओं की बिक्री पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है | जो देश की आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुँचाने के साथ साथ देश की सुरक्षा के लिए भी घातक है | इन उत्पादों के जरिये देश की महत्वपूर्ण जानकारियों के लीक होने का खतरा बना रहता है | इसके इलावा देश में उग्रवाद और नक्सलवाद भी देश की सुरक्षा के लिए एक बड़ा खतरा है | देश की सुरक्षा को बनाये रखने के लिए यह अति जरूरी है कि देश के हर नागरिक में राष्ट्रवाद की भावना उत्पन्न हो | कई बार देश की नीतियों के कारण भी देश की आन्तरिक सुरक्षा को खतरा बन जाता है | इस अवसर पर बोलते हुए पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र श्री राजेश दुग्गल ने बताया कि आज देश का युवा दिन प्रतिदिन नशे की चपेट में आ रहा है | जिससे उनका अपना जीवन तो बर्बाद हो ही रहा है उसके साथ वह देश के विकास एवं सुरक्षा के लिए भी खतरे की घंटी है | आज देश के पुलिस विभाग की ड्यूटी बनती है कि देश में फ़ैल रहे नशे को जड़ से खत्म किया जाये ताकि देश का भविष्य सुरक्षित किया जा सके | पुलिस अधीक्षक श्री राजेश दुग्गल ने अपने अधीनस्थ अधिकारीयों को चेतावनी देते हुए कहा कि देश की सुरक्षा के साथ किसी प्रकार का समझौता बर्दास्त नहीं किया जायेगा | सभी अधिकारी अपनी ड्यूटी इमानदारी से करें आप लोगों के कारण ही देश की सुरक्षा कायम राह सकती है | इस अवसर पर जिला कुरुक्षेत्र के सभी उप पुलिस अधीक्षक, निरीक्षक, सभी प्रबंधक थाना व इंचार्ज चौकियों ने भाग लिया | 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Responsive Ads Here