पंचकूला में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ के उदघाटन के दौरान मोबाइल जल परीक्षण प्रयोगशाला वैन का शुभारंभ - Discovery Times

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, October 3, 2020

पंचकूला में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ के उदघाटन के दौरान मोबाइल जल परीक्षण प्रयोगशाला वैन का शुभारंभ


  • चंडीगढ़- हरियाणा में प्रत्येक घर में शुद्ध पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की एक अत्याधुनिक मोबाइल जल परीक्षण प्रयोगशाला वैन का शुभारंभ किया। यह मोबाइल वैन राज्य जल परीक्षण प्रयोगशाला, करनाल में तैनात होगी और परीक्षण के लिए पूरे राज्य में जाएगी।
  • श्री मनोहर ने आज पंचकूला में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ के उदघाटन के दौरान इस मोबाइल जल परीक्षण प्रयोगशाला वैन का शुभारंभ किया। इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता भी उपस्थित थे।
  • आमजन के स्वास्थ्य के लिए गुणवत्ता वाले पानी की आपूर्ति सर्वोपरि है, इसलिए नियमित और सख्त जल परीक्षण अतिआवश्यक है। जल जीवन मिशन केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक प्रमुख पहल है, इसके तहत हरियाणा सरकार सभी ग्रामीण परिवारों को गुणवत्तापूर्ण पेयजल की सतत आपूर्ति हेतु घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग प्रयोगशालाओं में परीक्षण कर नियमित रूप से पानी की गुणवत्ता की निगरानी करके सभी को शुद्ध पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित कर रहा है।
  • वर्तमान में विभाग के पास प्रदेशभर में 43 परीक्षण प्रयोगशालाएं हैं। यह अत्याधुनिक मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेटरी वैन जो 99 लाख रुपये की लागत से खरीदी गई है, पूरी तरह से मल्टीमीटर प्रणाली से लैस है जिसमें एनालइजऱ, सेंसर, प्रॉब्स और कलरीमेट्रिक आधारित उपकरण, इलेक्ट्रोकेमिस्ट्री आदि हैं।
  • मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेटरी वैन का मुख्य उद्देश्य जल परीक्षण के लिए आसान और दूरस्थ स्थानों में अंतिम छोर तक पहुँच प्रदान करना है। इसके अलावा, जहां पानी से होने वाली बिमारियों के प्रसार की संभावना हो, मौके पर मोबाइल वैन को तैनात करना, जल परीक्षण रिपोर्ट आसानी से मिलना और सभी प्रयोगशालाओं से परीक्षण की गुणवत्ता की काउंटर चैकिंग करना इसके अन्य उद्देश्य हैं।
  • यह मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेटरी राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों में पीने के पानी की गुणवत्ता की निगरानी का एक प्रभावी तरीका होगा। यह लैब पानी की गुणवत्ता के विभिन्न मापदंडों जैसे पीएच, क्षारीयता, टीडीएस, कठोरता, अवशिष्ट क्लोरीन, जिंक, नाइट्राइट, फ्लोराइड, टर्बिडिटी और माइक्रो बायोलॉजिकल को मापने में सक्षम है। इसके अलावा, लैब मौके पर ही पानी की गुणवत्ता की समस्या को पहचानने में भी मदद करेगी।
  • इस मोबाइल वाटर टेस्टिंग लैब वैन को नवीनतम तकनीकों के साथ डिजाइन किया गया है, जिसमें लोकेशन ट्रैकिंग के लिए जीपीएस, मौके पर ही टेस्टिंग की रिकॉर्डिंग और रिपोर्ट स्मार्टफोन के माध्यम से मिलने जैसी सुविधाएं हैं। साथ ही, यह लैब जल स्रोत की तस्वीरें लेने और परिणामों की रिकॉर्डिंग और सैनिटरी सर्वेक्षण, यदि आवश्यक हो, करने में सक्षम है।
  • इस अवसर पर शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री एस. एन. रॉय, जनस्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेंद्र सिंह, उपायुक्त श्री मुकेश आहूजा, पुलिस आयुक्त श्री सौरभ सिंह, नगर निगम पंचकूला के आयुक्त श्री महावीर सिंह, पुलिस उपायुक्त श्री मोहन हांडा, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री अजय शर्मा और जिला प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Responsive Ads Here